नीतीश कैबिनेट का बड़ा फैसला, बिहार सरकार देगी कोरोना मृतकों के परिजनों को साढ़े 4 लाख रुपए।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में कैबिनेट की हुई बैठक। 6 एजेंडों पर लगी मुहर।

सरकार ने सबसे बड़ा फैसला कोरोना वायरस से जान गंवाने वाले लोगों के आश्रितों के हक में किया है।

अब कोविड-19 मृतकों के निकटतम आश्रितों को सरकार की तरफ से 4 लाख 50 हजार रुपए की अनुग्रह राशि दी जाएगी।

इसके अलावा बिहार पेशा कर नियमावली में संशोधन को मंजूरी मिल गई है।

कोरोना मृतकों के परिजनों को मिलेंगे साढ़े चार लाख रुपए 

नीतीश कैबिनेट की बैठक में फैसला लिया गया है कि कोरोना मृतकों के परिजनों को आकस्मिकता निधि से चार लाख रुपए की अनुग्रह राशि दी जाएगी।

इसके लिए सरकार ने 106 करोड़ रुपए की राशि स्वीकृत की है।

इसके अलावा मृत व्यक्तियों के निकटतम आश्रितों को 50 लाख प्रति मृतक की दर से अनुग्रह अनुदान की राशि का भुगतान करने के निमित्त वित्तीय वर्ष 2021-22 में आकस्मिकता निधि से भुगतान किया जाएगा। इसके लिए सरकार ने 20 करोड़ रुपए स्वीकृत किए हैं।

कैबिनेट में हुए यह भी फैसले

इसके अलावा कैबिनेट ने बिहार पेशा कर नियमावली, 2011 में संशोधन को मंजूरी दी है।

राज्य के राजस्व में वृद्धि के लिए बिहार ईख नियमावली-1978 में संशोधन को स्वीकृति दी गई है।

बिहार नगरपालिका 2007 के आलोक में एक नए नगर निकाय का गठन एवं 3 नगर निकायों के क्षेत्र विस्तार की स्वीकृति दी गई है।

स्वतंत्रता सेनानियों के प्रतिमा स्थल पर हर साल 17 जनवरी को राजकीय समारोह का आयोजन किया जाएगा।

बैठक से पहले ही संक्रमित मिले दोनों डिप्टी सीएम और कई मंत्री

कैबिनेट की बैठक से पहले उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद और रेणु देवी कोरोना संक्रमित मिले थे।

इसके अलावा उत्पाद मंत्री सुनील कुमार, अशोक चौधरी और विजय चौधरी भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए।

कोरोना की स्थिति को देखते हुए सीएम नीतीश कुमार ने अपनी समाज सुधार यात्रा स्थगित कर दी है।

सरकारी विभाग का पत्र