केंद्र सरकार: कर्मचारियों का दशहरा दीवाली होगी सौगात भरी, एरियर के साथ मिलेगा 90 हजार तक सैलरी

केंद्र सरकार

केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को दीवाली और दशहरे पर बड़ा सौगात देने का मन बना लिया है। इस त्यौहार में सरकार कर्मचारियों को 3 बड़े तोहफे देने जा रही है। 28 सितंबर 2022 को मोदी कैबिनेट की अहम बैठक होने वाली है, जिसमें सरकार एक साथ कई फैसले ले सकती है। महंगाई भत्ता और फिटमेंट फैक्टर में इजाफे पर भी सरकार विचार विमर्श कर सकती है।

अगर ऐसा हुआ तो कर्मचारियों की सैलरी में 27 से 96 हजार तक इजाफा हो सकता है। वही लंबे समय से पेंडिंग 18 महीने के डीए एरियर पर भी फैसला लिया जा सकता है, हालांकि अभी तक सरकार की तरफ से को आधिकारिक सूचना प्राप्त नहीं हुआ है।

ढाई गुना ज्यादा सैलरी में आएगी उछाल

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार डीए के साथ 3.68 फीसदी वृद्धि फिटमेंट फैक्टर पर भी फैसला आने की संभावना जताई जा रही है। इससे कर्मचारियों के वेतन में ढाई गुना से अधिक उछाल देखने को मिल सकती है। इसके लागू होने से लेवल मैट्रिक्स 1 से लाखों कर्मचारियों की बेसिक सैलरी में इजाफा होगा और वह 18 से बढ़कर 26 हजार तक हो जाएगी।

अगर केन्द्र की मोदी सरकार फिटमेंट फैक्टर बढ़ाती है तो अलग अलग लेवल के कर्मचारियों को 49 से 96 हजार तक वेतन में लाभ मिलेगा। वर्तमान में केन्द्रीय कर्मचारियों का फिटमेंट फैक्टर 2.57 गुना है, इसी आधार पर न्यूनतम बेसिक सैलरी 18000 रुपये है और अधिकतम बेसिक सैलरी 569 रुपये है।

52 हजार से ज्यादा कर्मचरियों को मिलेगा लाभ

यदि किसी केंद्रीय कर्मचारी की बेसिक सैलरी 18,000 रुपए है, तो भत्तों को छोड़कर उसकी सैलरी 18,000 X 2.57= 46,260 रुपए का लाभ होगा। 3.68 होने पर सैलरी 95,680 रुपये (26000 X 3.68 = 95,680) हो जाएगी। यानि सैलरी में 49,420 रुपए लाभ मिलेगा। इससे 52 लाख से ज्यादा कर्मचारी लाभान्वित होंगे।

बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में होने वाली इस महीने की आखिरी कैबिनेट बैठक ( Cabinet Meeting) में 4% महंगाई भत्ता (Dearness Allowance) बढ़ाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी जा सकती है। अगर सितंबर में इस पर सहमति बनती है तो कर्मचारियों का कुल डीए 34% से बढ़कर 38% हो जाएगा। नए डीए को 1 जुलाई 2022 से लागू किया गया तो 3 महीने का एरियर भी दिया जाएगा।

1 करोड़ से ज्यादा कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को मिलेगा लाभ

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अगर कर्मचारियों का डीए 38% होता है और मिनिमम बेसिक सैलरी 18,000 रुपये है तो टोटल डीए 6,840 रुपये और टोटल प्रॉफिट 720 रुपये महीना होगा। वहीं मूल वेतन पर अधिकतम 54,000 रुपये, 56,000 रुपये डीए के रूप में 27,312 रुपये मिलेंगे।

इसका लाभ 47.68 लाख केंद्रीय कर्मचारियों और 68.52 लाख पेंशनभोगियों को मिलेगा।इसके अलावा DA के बढ़ने के बाद हाउस रेंट अलाउंस, ट्रैवल अलाउंस, प्रोविडेंट फंड (Provident Fund) सिटी अलाउंस और ग्रेच्युटी (Gratuity) में भी वृद्धि की जा सकती है।

इसे भी पढ़ें:

तीन से पांच साल के लिए फिक्स डिपॉजिट पर बैंक दे रही है 7.5 फीसदी तक ब्याज, जानें पूरी जानकारी