भारत सरकार: 7वें वेतन के अंतर्गत केंद्र व राज्य कर्मचारियों के वेतन में लगभग 20 हजार जबकि बिहार के नियोजित शिक्षकों के वेतन में लगभग 8 हजार से 10 हजार तक होगी बढ़ोतरी।

7वें वेतन के अंतर्गत फिटमेंट फैक्टर को 2.57 गुना से बढ़ाकर 3.68 गुना करने की मिली मंजूरी।

के बाद केंद्र व राज्य कर्मचारियों के वेतन में लगभग 20 हजार जबकि बिहार के नियोजित शिक्षकों के वेतन में लगभग 8 हजार से 10 हजार तक होगी बढ़ोतरी, कैसे करेंगे वेतन का कैलकुलेशन, कब से होगी लागू जाने इस खबर में। 

केंद्र सरकार ने हाल ही में अभी सरकारी कर्मचारियों के महंगाई भत्‍ते में बढ़ोतरी की थी। महंगाई भत्ता (डीए) को 17% से बढ़ाकर 28% कर दिया है, जिससे इनके सैलरी में बढ़ा इजाफा दर्ज किया गया था।

अब केंद्र सरकार कर्मचारियों को नए साल पर एक और खुशखबरी दे सकती है। सरकार कथित तौर पर उनके वेतन बैंड के फिटमेंट फैक्टर में बढ़ोतरी पर विचार कर रही है। अगर ये बढ़ोतरी होती है तो सरकारी कर्मचारियों के न्‍यूनतम वेतन में बड़ा इजाफा होगा।

मिली जानकारी के अनुसार सरकार सातवे वेतन में कर्मचारियों को नए साल के शुभवसर पर बड़ी घोषणा करने की तैयारी कर चुकी हैं। बढ़ते महँगाइ को देखते हुए केंद्र सरकार ने ये फैसला लिया है।

फिटमेंट फैक्टर

सरकार ऐसे करेगी कैलकुलेशन 

केंद्र सरकार अपने केंद्र कर्मचारियों को मूल वेतन जिसमे वेतन पे +ग्रेड पे के जोड़ को 2.57 से गुना करने की जगह अब सातवे वेतन के अंतर्गत 2.57 के स्थान पर 3.58 से गुणा करने पर मंजूरी की सभी तैयारियां पूरी कर चुकी हैं।

फिटमेंट फैक्टर को 2.57 गुना से बढ़ाकर 3.68 गुना करने पर केंद्र कर्मचारियों के वेतन में 20 हजार से अधिक की बढ़ोतरी हो जाएगी। फिटमेंट फैक्टर को 2.57 गुना से बढ़ाकर 3.68 गुना करने पर बिहार के राज्यकर्मचारियों को साथ ही साथ बिहार के नियोजित शिक्षकों को भी इसका लाभ मिलेगा।

सचिवालय के वित्त विभाग के एक अधिकारी M.A.H शाह ने बताया कि इससे राज्य कर्मचारियों के वेतन में लगभग 20 हजार तक कि बढ़ोतरी हो जाएगी वहीं नियोजित शिक्षकों के विषय मे पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि लगभग 8 हजार से 10 हजार तक कि वेतन में बढ़ोतरी हो जाएगी।

उन्होंने कहा कि विभिन्न सरकारी कर्मचारि संघठन पिछलेएक वर्ष से इसकी मांग कर रहे हैं लेकिन सरकार ने अब इसको लेकर हरि झंडी दे चुकी हैं केंद्र सरकार इसकी घोषणा 1 जनवरी 2022 को करने की प्लानिग कर रही है।

केंद्र द्वारा घोषणा के बाद इसका लाभ देश के सभी राज्य कर्मचारियों सहित बिहार के नियोजित शिक्षकों को भी मिलेगा ।

कब तक होगा लागू

केंद्र सरकार के कर्मचारी संघ लंबे समय से न्यूनतम वेतन 18,000 रुपये से बढ़ाकर 26,000 रुपये करने और फिटमेंट फैक्टर को 2.57 गुना से बढ़ाकर 3.68 गुना करने की मांग कर रहे हैं।

एक रिपोर्ट में खुलास किया गया है कि केंद्र सरकार कर्मचारियों के फिटमेंट फैक्टर में बढ़ोतरी की घोषणा कर सकती है, जो केंद्रीय कर्मचारियों के न्यूनतम वेतन को बढ़ाएगी। रिपोर्ट में दावा है कि केंद्रीय कर्मचारियों का फिटमेंट फैक्टर अगले साल केंद्रीय बजट पेश होने से पहले तय किया जा सकता है।

बता दें कि वर्तमान में कर्मचारियों को फिटमेंट फैक्टर के तहत 2.57 प्रतिशत वेतन मिल रहा है। अगर इसे बढ़ाकर 3.68 प्रतिशत किया जाता है, तो वेतन में न्यूनतम 8,000 रुपये की वृद्धि होगी।

अगर किसी की न्‍यूनतम सैलरी 18000 रुपये है तो 8000 रुपये की बढ़ोतरी के साथ 26000 रुपये हो जाएगी। इसके अलावा जनवरी 2022 में एक बार फिर DA बढ़ने की भी उम्मीद है, हालांकि अभी यह तय होना बाकी है कि महंगाई भत्ते में कितनी बढ़ोतरी की जाएगी।

वहीं, केंद्र के कुछ विभागों में दिसंबर 2021 के अंत तक प्रमोशन भी किया जाना है। इसके अलावा बजट 2022 से पहले फिटमेंट फैक्टर को लेकर भी फैसला लिया जा सकता है।

रिपोर्ट के अनुसार, केंद्रीय मंत्रिमंडल फिटमेंट फैक्टर पर बढ़ोतरी को मंजूरी दे सकता है, और इसे बजट के खर्च में शामिल किए जाने की संभावना है।

7वें वेतन आयोग: केंद्रीय कर्मचारियों का फिर बढ़ा पैसा, 3% DA बढ़ने से किसे कितना होगा फायदा, जानें पूरा कैलकुलेशन।

7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों को एक और बड़ी राहत, अब आसानी से मिलेगा यह भत्ता, जानें पूरी जानकारी