भारत सरकार: क्या है आयुष्मान भारत योजना, और कैसे मिलेगा इसका लाभ जाने पूरी जानकारी।

Ayushman Bharat Yojana

आयुष्मान भारत और राज्य अटल आयुष्मान के तहत राज्य में 44 लाख से अधिक लाभार्थियों के गोल्डन कार्ड बन चुके हैं, जिनमें से 3.60 लाख लाभार्थियों को पैनलबद्ध अस्पतालों में मुफ्त इलाज दिया गया।

ऑफिसियल वेबसाइट का लिंक

भारत सरकार की आयुष्मान योजना के तहत लाभार्थी को 5 लाख तक का नि:शुल्क इलाज दिया जाता है। इस योजना का लाभ लेने के लिए आपके पास आयुष्मान कार्ड होना चाहिए।

आयुष्मान योजना 23 सितंबर 2018 को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू की गई थी। इसका उद्देश्य आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को स्वास्थ्य लाभ प्रदान करना है, जो इलाज का एक बड़ा खर्च नहीं उठा सकते हैं। इसे प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना (PMJAY) के रूप में भी जाना जाता है।

 

Ayushman Bharat Yojana

आयुष्मान योजना में तीन नई सुविधाएं

किडनी प्रत्यारोपण उपचार के साथ ही इलाज पैकेज की नई दरें लागू होंगी। इसके साथ ही नए राशन कार्ड धारकों को भी आसानी से गोल्डन कार्ड मिल सकेगा।

राज्य में Ayushman Bharat Yojana और राज्य अटल आयुष्मान के तहत अब तक 44 लाख से ज्यादा लाभार्थियों के गोल्डन कार्ड बन चुके हैं. जिसमें से 3.60 लाख लाभार्थियों को पैनलबद्ध अस्पतालों में मुफ्त इलाज दिया गया। जिस पर सरकार ने 456 करोड़ रुपये खर्च किए हैं।

अभी तक योजना में किडनी प्रत्यारोपण का इलाज मान्य नहीं था।

 

अब गोल्डन कार्ड धारकों को किडनी प्रत्यारोपण का इलाज भी मिलेगा।

साथ ही गोल्डन कार्ड बनाने के लिए सरकार ने 2014-15 तक बने राशन कार्डों का डाटा भी लिया था. जिससे नए राशन कार्डधारकों के कार्ड नहीं बन रहे थे। अब तक राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण ने राशन कार्ड धारकों का नया डाटा आईटी सिस्टम पर फीड कर दिया है।

राशन कार्ड आयुष्मान योजना के सिस्टम पर अपने आप अपडेट हो जाएगा। योजना में सूचीबद्ध निजी अस्पतालों की मांग पर केंद्र सरकार ने 400 बीमारियों के इलाज के लिए पैकेज दरों में बढ़ोतरी की है जो 1 नवंबर से लागू होगा।

यहाँ से करें अप्लाई

गोल्डन कार्ड और लाभार्थी

जिला                 कार्ड                लाभार्थी       व्यय राशि (करोड़ में)
अल्मोड़ा          2.37 लाख            7439             9.44
बागेश्वर          1.01  लाख             3293             3.32
चमोली             1.8 लाख           10138           14.31
चंपावत          0.97 लाख              3382             4.35
देहरादून          9.54 लाख          108338        157.19
हरिद्वार           7.26 लाख            56920           89.86
नैनीताल         4.08 लाख            31715           29.35
पौड़ी              3.24 लाख            27563           34.67
पिथौरागढ़       1.82 लाख              8659             7.44
रुद्रप्रयाग         1.09 लाख              5709             9.90
टिहरी             2.91 लाख            21357           31.75
यूएस नगर       6.67 लाख            43111           47.88
उत्तरकाशी       1.69 लाख             10377           16.81

 

पात्रता : 5 लाख तक का नि:शुल्क इलाज

आप Ayushman Bharat Yojana के पात्र तभी बन सकते हैं जब सरकार आपको आयुष्मान कार्ड जारी करेगी। आयुष्मान कार्ड बनाना अब और भी आसान हो गया है।

इसी कड़ी में आज हम जानेंगे कि आप कैसे बनवा सकते हैं आयुष्मान कार्ड? यह प्रोसेस काफी आसान है।

आप अपने निकटतम यूटीआईआईटीएसएल केंद्रों पर जाकर पीएमजेएवाई के तहत अपना आयुष्मान कार्ड जनरेट करवा सकते हैं।

आपका यह कार्ड तभी बनेगा जब आपकी योग्यता इसके लिए उपयुक्त होगी। अपनी पात्रता जांचने के लिए आपको अपने नजदीकी UTIITSL केंद्र पर पहुंचना होगा,

या फिर आप 14555 पर कॉल करके भी इसके बारे में जानकारी जुटा सकते हैं। इस योजना में पंजीकरण कराने के लिए कोई विशेष पंजीकरण प्रक्रिया नहीं है।

किसके लिए है यह योजना 

भारत सरकार की यह योजना उन सभी लोगों के लिए है जिनकी पहचान SECC द्वारा RSBY योजना के अंतर्गत की जाती है। पात्रता के बारे में अधिक जानने के लिए आप पर जा सकते हैं।

उसके बाद आपको ‘Am I Eligible’ का विकल्प दिखाई देगा उस पर क्लिक करें।

अब आपको अपना मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा। उसके बाद आपके नंबर पर एक OTP आएगा, उसे बॉक्स में भरकर आगे बढ़ें।

अब आपको अपने राज्य का चयन करना है और एचएचडी नंबर, राशन नंबर या मोबाइल नंबर के माध्यम से अपने विवरण के बारे में खोजना है।

सर्च करने के बाद जो परिणाम स्क्रीन पर दिखाई देंगे। इससे आप पता कर सकते हैं कि आप आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत आते हैं या नहीं।

अगर आप इसके लिए पात्र हैं तो आपको आसानी से आयुष्मान योजना का ई-कार्ड मिल जाएगा। PMJAY कियोस्क पर आपका आधार कार्ड वेरीफाई करने के बाद आपका आयुष्मान कार्ड जारी किया जाएगा।

 

ऑफिसियल वेबसाइट का लिंक