सरकार ने तेजी से नौकरी-बहाली को लेकर उठाया कड़ा कदम, नीतीश ने मुख्य सचिव को दिया सख्त आदेश

बिहार सरकार

बिहार में खली पदों की भर्ती को लेकर सरकार ने कड़ा रुख अपनाना शुरू कर दिया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान राज्य के मुख्य सचिव को कड़े शब्दों में आदेश दिया है कि सरकार के सभी विभागों में खाली पदों पर तेजी से बहाली की प्रक्रिया पूरी करके रिक्त पदों को जल्द से जल्द भरा जाए।

तेजी से बहाली का दिया निर्देश

इस कार्यक्रम को सरकार ने नवनियुक्त कर्मचारियों को नियुक्ति पत्र देने के लिए आयोजित किया था। जिसमें बिहार के मुख्यमंत्री ने कहा कि “उन्होंने चीफ सेक्रेटरी को आदेश दे दिया है कि सभी विभागों में तेजी से बहाली की जाए।” इस कार्यक्रम में बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव भी मौजूद थे।

विपक्ष सिर्फ प्रचार-प्रसार में विश्वास रखते हैं

नीतीश ने इस मौके पर अधिकारियों को राजस्व विभाग में 27 सौ और पदों पर बहाली में तेजी लाने का भी आदेश दिया। नीतीश ने विपक्ष पर तंज कस्ते हुए कहा ये लोग तनाव और झंझट पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने केंद्र सरकार को भी निशाने पर लिया और कहा कि इन सब को काम से मतलब नहीं है, बस ये लोग प्रचार-प्रसार में विश्वास रखते हैं।

विपक्ष ने बिहार सरकार पर लगाए आरोप

इस बीज राजस्व विभाग के कर्मचारियों को नियुक्ति पत्र के वितरण पर बीजेपी ने आरोप लगाया है कि जिन लोगों को नियुक्ति पत्र दिया जा रहा है उनको एनडीए सरकार के कार्यकाल में ही नियुक्ति पत्र दे दी गई थी। जिस वक़्त विभाग के मंत्री बीजेपी नेता रामसूरत राय थे। बीजेपी प्रवक्ता निखिल आनंद ने कहा कि ये फर्जी में नियुक्ति का पत्र बांट रहे हैं।

इसे भी पढ़ें:

कर्मचारियों के DA और DR में वृद्धि पर कैबिनेट का बड़ा फैसला, वित्त विभाग ने जारी किया पत्र!